دلّی سخنوروں کا ہے مرکز مگر میاں اردو کے کچھ چراغ تو پنجاب میں بھی ہیں- جتندر پرواز 9868985658 0091

दिल्ली सुख़नवरों का है मरकज़ मगर मियां, उर्दू के कुछ चराग़ तो पंजाब में भी हैं - जतिन्दर परवाज़ +91 9868985658

Friday 17 July 2009

जतिन्दर परवाज़ प्रो. वसीम बरेलवी के साथ




2 comments:

  1. वाह अपने पंजाबी भाई का बहुत बहुत स्वागत है और बधाई

    ReplyDelete
  2. किस्मत वाले हैं परवाज़ भाई...वसीम साहेब मेरे बहुत पसंदीदा शायर हैं...उनका कलाम पढने का अंदाज़ निराला है...
    नीरज

    ReplyDelete

jatinderparwaaz@gmail.com